इतिहास शिक्षण -3 संस्कृत भाषा और ब्राह्मी लिपि

विद्याभारती E पाठशाला
इतिहास शिक्षण -3
संस्कृत भाषा और ब्राह्मी लिपि
----------------------------------
संस्कृत भाषा और ब्राह्मी लिपि :
संस्कृत विश्व की सबसे प्राचीन भाषा है तथा समस्त भारतीय भाषाओं की जननी है। 'संस्कृत' का शाब्दिक अर्थ है 'परिपूर्ण भाषा'। संस्कृत से पहले दुनिया छोटी-छोटी, टूटी-फूटी बोलियों में बंटी थी जिनका कोई व्याकरण नहीं था और जिनका कोई भाषा कोष भी नहीं था। कुछ बोलियों ने संस्कृत को देखकर खुद को विकसित किया और वे भी एक भाषा बन गईं।

No comments:

Post a comment