भौतिक विज्ञान – 10 विद्युत धारा के प्रभाव 2

विद्याभारती E पाठशाला
भौतिक विज्ञान – 10
विद्युत धारा के प्रभाव Effects of Electric Current - 2
रासायनिक प्रभाव
शुद्ध जल विद्युत् का कुचालक होता है, लेकिन जब जल में किसी धातु के लवण, अम्ल अथवा क्षार घुले रहते हैं, तो ऐसा घोल विद्युत् का सुचालक हो जाता है। ऐसे घोल जिससे विद्युत् धारा गुजर सकती है, विद्युत अपघट्य (Electrolyte) कहलाता है। जब किसी लवण, अम्ल अथवा क्षार घुले जलीय घोल में विद्युत् धारा प्रवाहित की जाती है, तो उसका विद्युत् अपघटन (Electrolysis) होता है, अर्थात् उस विलियन का धनात्मक व ऋणात्मक आयनों में अपघटन (Decomposition) हो जाता है। इस घटना को विद्युत् धारा का रासायनिक प्रभाव कहते हैं। जिस उपकरण में घोल का विद्युत् अपघटन होता है, उसे वोल्टामीटर (voltameter) कहते हैं।

No comments:

Post a comment