शिक्षा दर्शन- 28 भारतीय शिक्षा के मूल तत्व 3

विद्याभारती E पाठशाला
भारतीय शिक्षा के मूल तत्व - 28
शिक्षा में प्रयोजनवाद
_________________________________
आदर्शवाद और प्रकृतिवाद के मध्यम मार्ग के रूप में शिक्षा का नवीन सिद्धांत प्रतिपादित हुआ जिसका नाम प्रयोजनवाद या फलवाद रखा गया। इस दार्शनिक सिद्धांत के प्रमुख प्रवर्तक विलियम जेम्स ने भी इसे आदर्शवाद और प्रकृतिवाद का मध्यम मार्ग माना है। इस दार्शनिक सिद्धांत के अन्य समर्थकों में शिलर और जॉन दुई अधिक प्रसिद्ध हुए, यह सिद्धांत वास्तव में अमरीकी दार्शनिक सिद्धांत है। यूरोप के अनेक देशों के लोग अमेरिका में जाकर बसे इन विविधता पूर्ण प्रवासियों का कोई अपना दार्शनिक मत या सिद्धांत नहीं था।

No comments:

Post a comment