शिक्षा दर्शन- 25 शिशु मंदिर की रीती निति

विद्याभारती E पाठशाला
भारतीय शिक्षा के मूल तत्व - 25
शिक्षा का अर्थ

शिक्षा मनुष्य - जीवन के परिष्कार एवं विकास की प्रणाली है । जीवन के प्रत्येक अनुभव को शिक्षा कहा जा सकता है । वास्तव में समस्त मानव - जीवन ही शिक्षा है और शिक्षा ही जीवन है । जो कुछ भी व्यवहार मनुष्य के ज्ञान की परिधि को विस्तृत करे , उसकी अन्तदृष्टि को गहरा करे , उसकी प्रतिक्रियाओं का परिष्कार करे भावनाओं और क्रियाओं को उत्तेजित करे अथवा किसी न किसी रूप में उस को प्रभावित करे वह ' शिक्षा ' ही है ।

No comments:

Post a comment