शिक्षण कौशल 24 - विद्यालय की प्रतिष्ठा बढ़ाने हेतु लक्ष्य

शिक्षण कौशल 24 - विद्यालय की प्रतिष्ठा बढ़ाने हेतु लक्ष्य
विद्यालय की प्रतिष्ठा बढ़ाने हेतु लक्ष्य
प्रतिष्ठित विद्यालय समाज को प्रभावित करने में समाज को उपयुक्त दिशा देने के सशक्त केंद्र बनकर खड़े हो सकते हैं विद्या भारती ने प्रारंभ काल से ही इस दिशा में कार्य किया है समाज को साक्षर करने से लेकर कौशल प्रदान करने पर्यावरण का संरक्षण करने समाज में व्याप्त कुरीतियों से लड़ने तक के विभिन्न क्षेत्रों में विद्यालय में कार्य किया है यह विशाल कार्य छोटे-छोटे रूप में करते हुए विद्यालय समाज में प्रतिष्ठा प्राप्त कर रहे हैं

शिक्षण कौशल 24 - विद्यालय की प्रतिष्ठा बढ़ाने हेतु लक्ष्य
कक्षा प्रवंध 

No comments:

Post a comment