Lesson 17 कक्षा प्रबंधन

Lesson 17 कक्षा प्रबंधन
१-कक्षा प्रबंधन
एक सक्रिय कक्षा का निर्माण निश्चित रूप से काफी श्रमसाध्य है, लेकिन उसका प्रबंधन तो और भी कठिन है। लेकिन एक बार यह आपकी दिनचर्या का हिस्सा बन जाए, इसके बाद आप एक खुशमिजाज़ शिक्षक होंगे और बच्चे भी प्रसन्न और सृजनशील होंगे। लेकिन ऐसी स्थिति तक पहुंचना थोड़ा मुश्किल और तनावयुक्त हो सकता है।
अगर आपके पास बहुत-सी तरह-तरह की गतिविधियां हों और आप उन्हें रोज़ करवाएं तो आप पाएंगे कि बच्चों को पढ़ाना कितना आसान हो गया है। आप बच्चों को छोटे-छोटे समूहों में बांटकर उनके साथ काम कर सकेंगे।

२-अभिव्यक्ति कौशल एवं जिज्ञासा समाधान
शिक्षक का मुख्यकार्य शिक्षण एवं अध्यापन करना है। वह छात्रों अभिभावकों एवं समाज का नेतृत्व करता है, प्रबोधन करता है, अपने विषय का प्रभावी प्रस्तुतीकरण करता है अतः अपेक्षित विचार, भाषा की सटीक अभिव्यक्ति आवष्यक है। शिक्षक की व्यक्तित्व शेली उसके व्यक्तित्व में चार चाँद लगाती है। तात्कालिक विषयों पर अपने प्रभावी विचार रखने की कला आना ही चाहिए । अतः अभिव्यक्ति के प्रत्येक अवसर का लाभउठायें।

Lesson 17 कक्षा प्रबंधन
२-अभिव्यक्ति कौशल एवं जिज्ञासा समाधान

No comments:

Post a comment