Lesson - 37 आनुवंशिकी

Lesson - 37 आनुवंशिकी
1- आनुवंशिकी
आनुवंशिकी (जेनेटिक्स) जीव विज्ञान की वह शाखा है जिसके अंतर्गत आनुवंशिकता (हेरेडिटी) तथा जीवों की विभिन्नताओं (वैरिएशन) का अध्ययन किया जाता है। आनुवंशिकता के अध्ययन में ग्रेगर जॉन मेंडेल की मूलभूत उपलब्धियों को आजकल आनुवंशिकी के अंतर्गत समाहित कर लिया गया है। प्रत्येक सजीव प्राणी का निर्माण मूल रूप से कोशिकाओं द्वारा ही हुआ होता है। इन कोशिकाओं में कुछ गुणसूत्र (क्रोमोसोम) पाए जाते हैं। इनकी संख्या प्रत्येक जाति (स्पीशीज) में निश्चित होती है। इन गुणसूत्रों के अंदर माला की मोतियों की भाँति कुछ डी एन ए की रासायनिक इकाइयाँ पाई जाती हैं जिन्हें जीन कहते हैं। ये जीन गुणसूत्र के लक्षणों अथवा गुणों के प्रकट होने, कार्य करने और अर्जित करने के लिए जिम्मेवार होते हैं। इस विज्ञान का मूल उद्देश्य आनुवंशिकता के ढंगों (पैटर्न) का अध्ययन करना है अर्थात् संतति अपने जनकों से किस प्रकार मिलती जुलती अथवा भिन्न होती है।

pdf देखें.....
Lesson - 37 आनुवंशिकी
2- रोचक विज्ञान- दिमाग की रोचक बातें
3- विज्ञान प्रयोग- कार्ड पकड़ो 

विडियो देखें......
https://www.youtube.com/watch?v=SnFyAdOBLJg
https://www.youtube.com/watch?v=1Kgc_YPbu2Q

नोट- आज जीव विज्ञान का अंतिम पाठ है. कल से रसायन विज्ञान प्रारंभ हो रहा है..नया विषय नई तैयारी..आप तैयार रहिएगा.

No comments:

Post a comment