Lesson - 28 जीवधारियों का वर्गीकरण

Lesson - 28 जीवधारियों का वर्गीकरण
1- जीवधारियों का वर्गीकरण
जीव जगत के जीवों एवं पादपों को उनके गुणधर्म(Characteristics) और विशेषताओं(Specificity)के आधार पर अलग-अलग श्रेणियों में सुव्यवस्थित ढंग से वर्गीकृत करने को वर्गिकी(Taxonomy) या वर्गीकरण विज्ञान(Systematics) कहते हैं।
वर्गिकी का कार्य आकारिकी, आकृतिविज्ञान (morphology) क्रियाविज्ञान (physiology), परिस्थितिकी (ecology) और आनुवंशिकी (genetics) पर आधारित है। अन्य वैज्ञानिक अनुशासनों की तरह यह भी अनेक प्रकार के ज्ञान, मत और प्रणालियों का सश्लेषण है, जिसका प्रयोग वर्गीकरण के क्षेत्र में होता है। जीवविज्ञान संबंधी किसी प्रकार के विश्लेषण का प्रथम सोपान है सुव्यवस्थित ढंग से उसका वर्गीकरण; अत: पादप, या जंतु के अध्ययन का पहला कदम है उसका नामकरण, वर्गीकरण और तब वर्णन।

पीडीएफ देखें...
Lesson - 28 जीवधारियों का वर्गीकरण
2- मजेदार विज्ञान
3- विज्ञान के प्रयोग

विडियो देखें..
https://www.youtube.com/watch?v=vqxomJIBGcY
https://www.youtube.com/watch?v=d-NZrMH_1Ko

No comments:

Post a comment